निजी स्कूलों में पढ़ाई हुई और महंगी, फीस में २५ से 30% की बढ़ोतरी नियमों को तोड़ने पर होगी सख्त कार्यवाही

कोरोना से राहत के बाद सभी तरह के प्रतिबंध हटाने के बाद लोगों का व्यवसाय, नौकरी और रोजगार नियमित होने लगी है लेकिन महंगाई ने कमर तोड़ दी है. केवल खाने-पीने की वस्तुओं में ही नहीं बल्कि प्राइवेट स्कूलों की फीस में भी 20-30 फीसदी तक वृद्धि की गई है. अगले सत्र के लिए प्रवेश लेने वाले अभिभावकों के साथ ही अगली कक्षा में प्रवेश के लिए अपनी जेबें ढीली करनी पड़ रही है.

बोर्ड एग्जाम लिए जायेगे ऑफलाइन, जानिए कब शुरू होगी परीक्षाएं

महाराष्ट्र बोर्ड ने 10वीं, 12वीं परीक्षा के लिए अहम दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं। इसके मुताबिक, सबसे अहम यह है कि महाराष्ट्र बोर्ड परीक्षाएं 2022 अपने निर्धारित शेड्यूल के अनुसार ही ऑफलाइन मोड में आयोजित की जाएगी। महाराष्ट्र स्टेट बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एंड हायर सेकेंडरी एजुकेशन, (Maharashtra State Board of Secondary and Higher Secondary Education, MSBSHSE) ने बीते दिन एक प्...

कोरोना के चलते कैंसिल हो सकते है बोर्ड exam जल्द ले सकते है फैसला

महाराष्ट्र स्टेट बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एंड हायर सेकेंडरी एजुकेशन MSBSHSE इस वर्ष की बोर्ड परीक्षाओं की डेटशीट जारी कर चुका है. जारी शेड्यूल के अनुसार, Maharashtra SSC, HSC Exam 2022 इस वर्ष फरवरी माह में आयोजित किए जाने हैं. राज्‍य में बेकाबू हो रहे कोरोना को देखते हुए यह संभव है कि बोर्ड परीक्षाओं को स्‍थगित कर दिया जाए. रिपोर्ट्स के अनुसार, बोर्ड जल्‍द एक समीक्षा बैठक आयो...

कोरोना के बढ़ते मामलो के बीच, केसे होगी बोर्ड की जांच परीक्षा…

मुंबई में कोरोना का प्रकोप कम होने के बाद सरकार ने अब 24 जनवरी से पहली से 12वीं तक स्कूल खोलने का निर्णय लिया है. हालांकि स्कूल खोलने का अधिकार स्थानीय प्रशासन को दिया गया. परिस्थिति को ध्यान में रखकर स्कूल खोले जाएंगे. जिले में जिस तरह से हर दिन मामले बढ़ते जा रहे हैं, उससे नहीं लग रहा है कि अगले सोमवार से स्कूल खुल पाएंगे. इस हालत में स्कूलों के लिए 10वीं और 12वीं की ...

स्कूल: मुंबई को देख बाकि राज्यभर के लिए निर्णय कहां तक उचित ..

जिस वक्त नागपुर सहित विदर्भ में कोरोना के मरीजों की संख्या कम थी, उस वक्त मुंबई में संक्रमित तेजी से बढ़ रहे थे. सरकार ने मुंबई को छोड़कर बाकी जिलों की स्थिति की समीक्षा किये बिना ही स्कूल-कॉलेज बंद करने का निर्णय ले लिया. उस वक्त भी सरकार के फैसले का कई संगठनों ने विरोध किया था. अब जब मुंबई में संक्रमित कम हो गये तो सरकार ने 24 जनवरी से स्कूल खोलने का निर्णय लिया है. ज...

बिना नियोजन स्कूल बंद, छात्र हो रहे पढाई से वंचित, मानसिक स्थिति पर भी हो रहा असर

कोरोना की वजह पिछले दो वर्ष से स्कूलों में पढ़ाई की गाड़ी पटरी से उतर चुकी है. सरकार भी मान चुकी है कि ऑनलाइन स्टडी में सभी छात्रों को लाभ नहीं मिलता. इसके बाद भी नियोजन किये बिना ही स्कूल बंद किया जा रहा है. इससे न केवल छात्रों का शैक्षणिक नुकसान हो रहा है, बल्कि मानसिक परिणाम भी हो रहा है. शिक्षक संगठनों का कहना है कि स्कूल बंद करने के पहले सरकार नियोजन करे. निर्धन व ...

महाराष्ट्र मे हो सकते फिर से स्कूल बंद,जानिए क्या है बात….

महाराष्ट्र में ओमिक्रोन वैरिएंट के लगातार बढ़ रहे मामलों पर चिंता जताते हुए राज्य की स्कूल शिक्षा मंत्री प्रो वर्षा एकनाथ गायकवाड़ का कहना है कि यदि ओमिक्रोन के मामलों में वृद्धि जारी रहती है, तो हम स्कूलों को फिर से बंद करने का निर्णय ले सकते हैं। हम स्थिति पर नजर बनाये हुए हैं।

गौरतलब है कि महाराष्ट्र में ओमिक्रॉन क...

शिक्षक पात्रता परीक्षा मे हुई गड़बड़ी, शिक्षा आयुक्त समेत एक सॉफ्टवेयर कंपनी भी शामिल

पुलिस ने महाराष्ट्र राज्य परीक्षा परिषद (MSCE)के पूर्व आयुक्त सुखदेव डेरे और एक सॉफ्टवेयर कंपनी के तत्कालीन प्रबंधक को 2018 शिक्षक पात्रता परीक्षा (TET) में गड़बड़ी के आरोप में गिरफ्तार किया है। इसी कंपनी ने परीक्षा आयोजित की थी।
अधिकारी ने कहा, ‘‘2018 शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) में गड़बड़ी में डेरे की कथित संलिप्तता को लेकर उनके खिलाफ अलग से मामला दर्ज किया गया...

Masjid

मस्जिद का एक शानदार फैसला बच्चो की पढ़ाई के लिए दिया मस्जिद का परिसर

पश्चिम बंगाल के जलपाईगुड़ी में एक मस्जिद की पहल काफी चर्चा का विषय बना हुआ है. बताया जा रहा है कि एक मस्जिद में नमाज के लिए लाउडस्पीकर का इस्तेमाल नहीं हो रहा है. ऐसा निर्णय मुस्लिम समाज के लोगों ने बच्चों की पढ़ाई को लेकर लिया है, ताकि उनको कोई परेशानी न
पहुंचे. वहीं मस्जिद ने बच्चों के क्लास के लिए अपना परिसर भी दिया है. मुस्लिम समुदाय के लोगों के इस कार्य की सभ...

कुछ रोचक तथ्य

1.आपात स्थिति में नारियल पानी को रक्त प्लाज्मा की जगह इस्तेमाल किया जा सकता है.

2.100 प्रतिशत शुद्ध जूस का दावा करने वाले पैकेट में कृत्रिम फ्लेवर मिलाया जाता है.

3.असल में गाजर बैगनी रंग का होता है.

4.मोंक फल का ...